नसबंदी के बाद तीन महिलाओं की मौत, 50 बीमार


छत्तीसगढ़ के गांव पेंडारी स्थित अस्पताल में लगे सरकारी नसबंदी शिविर में बरती गई लापरवाही से तीन महिलाओं की मौत हो गई है जबकि 50 से अधिक की तबीयत बिगड़ गई है। गंभीर रूप से पीडि़त 25 महिलाओं को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। परिवार नियोजन कल्याण का लक्ष्य पूरा करने के लिए जिला अस्पताल के सर्जन ने अपने सहयोगी के साथ मिलकर छह घंटे के भीतर 83 महिलाओं की नसबंदी कर दी।

शिविर का आयोजन बीते शनिवार को नेमीचंद जैन कैंसर हॉस्पिटल में किया गया था। लेप्रोस्कोप सर्जन डॉ. आरके गुप्ता व उनका एक प्रशिक्षु शिविर में ऑपरेशन के लिए पहुंचे थे। सुबह 10 बजे से ही 40 गांवों की 83 महिलाओं को ऑपरेशन के लिए बुला लिया गया था। ऑपरेशन के दो घंटे बाद सभी महिलाओं को दवाएं देकर लौटा दिया गया। कुछ देर बाद अचानक महिलाओं को उल्टी, बुखार व दर्द की शिकायत हुई। कई महिलाएं गांव के ही चिकित्सक के पास उपचार के लिए पहुंचीं, लेकिन उल्टी थमने का नाम ही नहीं ले रही थी। तीन महिलाओं की मौत की खबर लगते ही स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया।

Advertisements
%d bloggers like this: